अमेरिका के लड़ाकू विमानों की कोरियाई प्रायद्वीप में उड़ान, उत्तर कोरिया भड़का

 

प्योंगयांग/वाशिंगटन: उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को अमेरिका के दो बमवर्षक विमानों द्वारा कोरियाई प्रायद्वीप के पास हवाई क्षेत्र में उड़ान भरने के कदम की निंदा की। अमेरिका के इन बमवर्षकों ने जापान और दक्षिण कोरिया के विमानों के साथ कोरियाई प्रायद्वीप के हवाई क्षेत्र में संयुक्त सैन्याभ्यास किया था।

उत्तर कोरिया की समाचार एजेंसी कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) के मुताबिक, “अमेरिका जैसे गैंगस्टर निरंतर परमाणु हमले की धमकी दे रहे हैं और उत्तर कोरिया को किसी भी कीमत पर ब्लेकमैल करने का प्रयास कर रहा है।”

बयान के मुताबिक, “अमेरिका के बी-1 बमवर्षकों को कोरियाई प्रायद्वीप में उड़ान भरी। इससे स्पष्ट पता चलता है कि अमेरिका ही एकमात्र देश है, जो कोरियाई प्रायद्वीप में स्थिति को बदत्तर करने पर तुला है और परमाणु युद्ध की चिंगारी भड़काने की कोशिश में है।”

सीएनएन के मुताबिक, अमेरिकी वायुसेना के बी-1बमवर्षकों ने दक्षिण कोरिया और जापान के लड़ाकू विमानों के साथ गुरुवार को कोरियाई प्रायद्वीप के पास उड़ान भरी

बयान के मुताबिक, “दो बी-1बी लैंसर्स ने गुआम के एंडरसेन वायु सैन्यअड्डे से दक्षिण कोरिया एवं जापना की ओर उड़ा भरी। इसके बाद लैंसर्स ने यैले सागर के ऊपर दक्षिण कोरिया के लड़ाकू विमानों के साथ अभ्यास किया। इस द्विपक्षीय साझेदारी के पूरा होने के बाद ये विमान अपने-अपने सैन्यअड्डे लौट आए।”

बयान के मुताबिक, यह संयुक्त सैन्याभ्यास पहले से ही सुनियोजित था।

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *