आंध्र प्रदेश में जल्लीकट्टू जैसे प्रदर्शन की योजना : चंद्रबाबू नायडू

चंद्रबाबू

 

विजयवाड़ा। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू ने सोमवार को कहा कि तमिलनाडु में जल्लीकट्टू पर हो रहे प्रदर्शन से प्रेरित होकर आंध्र के विपक्ष ने प्रदेश को विशेष राज्य का दर्ज देने की मांग को लेकर अशांति फैलाने की योजना बनाई है। मशहूर अभिनेता व जन सेना के प्रमुख पवन कल्याण ने घोषणा की है कि अगर 26 जनवरी को विशाखापपट्टनम में युवा मूक प्रदर्शन की योजना बनाते हैं, तो उनकी पार्टी उनका समर्थन करेगी।

 

उन्होंने ट्वीट किया, “अगर आंध्र प्रदेश के युवा आर.के.समुद्र तट पर एक मूक प्रदर्शन की योजना बना रहे हैं, तो विजाग जन सेना उनका समर्थन करेगी।”

 

विपक्षी नेता तथा वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष वाई.एस.जगनमोहन रेड्डी ने सोमवार को कहा कि वह इस तरह के किसी भी प्रदर्शन का स्वागत करेंगे।

 

जगनमोहन रेड्डी ने ट्वीट किया, “राज्य को विशेष दर्जा की मांग को लेकर किसी भी तरह के कार्यक्रम का स्वागत है। मैं सभी समर्थकों खासकर युवाओं से आगे आने की अपील करूंगा और ऐसे कार्यक्रमों की सफलता के लिए समर्थन करूंगा।”

 

अभिनेता ने कहा, “युवाओं को अपनी आवाज शांतिपूर्ण तरीके से उठानी चाहिए। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने के वादे को हासिल करने का यह एकमात्र तरीका है।”

 

विपक्षी पार्टियों तथा अन्य समूहों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने के वादे से पलटने और राज्य को धोखा करने का आरोप लगाया है।

 

उन्होंने मुद्दे से ‘समझौते’ के लिए सत्ताधारी तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) पर भी निशाना साधा।

 

पिछले कई महीनों से भाजपा व टीडीपी पर निशाना साधने वाले पवन कल्याण ने अपना हमला जारी रखा है।

 

उन्होंने ट्वीट किया, “आंध्र प्रदेश की सत्ता में उत्साह, गुणवत्ता, आदर, अखंडता तथा जवाबदेही की कमी है।”

 

उन्होंने लिखा, “हम गांधी से प्रेम करते हैं, अंबेडकर की पूजा करते हैं, सरदार पटेल को सलाम करते हैं, अपने संविधान का आदर करते हैं, लेकिन उत्तर भारत के घमंडी नेतृत्व का मुकाबला नहीं करते। अगर उन्होंने दक्षिण भारत के लोगों का अपमान करना और उनके आत्म सम्मान को ठेस पहुंचाना जारी रखा..तो हम जानते हैं कि उनका घमंड कैसे तोड़ना है।”

 

पवन ने लिखा, “क्या उत्तर भारत के संभ्रांत राजनीतिज्ञ जानते हैं कि दक्षिण में कितनी भाषाएं बोली जाती हैं? उनके लिए तो हम सब मद्रासी हैं।”

 

कांग्रेस ने कहा है कि वह आंध्र को विशेष राज्य के दर्जे के लिए किसी भी पार्टी से हाथ मिलाने को तैयार है।

 

प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग के लिए लड़ रही प्रतेक्य हुडा साधना समिति ने तेलुगू फिल्म अभिनेता को जल्लीकट्टू प्रदर्शन से सबक लेने और विशेष दर्जा दिलाने के लिए नेतृत्व करने की अपील की।

 

नायडू ने विशेष राज्य के दर्जे की मांग को जल्लीकट्टू से जोड़ने पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई है।

 

उन्होंने सोमवार को कहा, “कुछ पार्टियां लोगों को भड़काने तथा अशांति फैलाने का काम कर रही हैं, लेकिन हम इसकी इजाजत नहीं देंगे। हम रुख सख्त रहेगा।”

(आईएएनएस)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *