National

ईडी ने चौकसी की 1,200 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की

नई दिल्ली : प्र्वतन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को गीतांजलि समूह के मेहुल चौकसी की 1,217 करोड़ रुपये के मूल्य की 41 संपत्तियों को जब्त कर लिया। यह कार्रवाई पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ 12,600 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी मामले में चल रह जांच के संबंध में हुई है।

ईडी के अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “चौकसी और कंपनियों की उनके द्वारा नियंत्रित 1,217.20 करोड़ रुपये के मूल्य की कम से कम 41 संपत्तियों को जब्त कर लिया गया है।”

जब्त की गई संपत्तियों में मुंबई में 15 फ्लैट और 17 कार्यालय, आंध्र प्रदेश में हैदराबाद जेम्स एसईजी, कोलकाता में शॉपिंग मॉल, अलीबाग में फार्म हाउस और महाराष्ट्र व तमिलनाडु में 231 एकड़ जमीन शामिल हैं।

एक अधिकारी ने कहा कि पीएनबी धोखाधड़ी मामले के संबंध में बुधवार को नीरव मोदी और उसके अंकल चौकसी के खिलाफ ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया गया।

ब्लू कॉर्नर नोटिस आपराधिक जांच में किसी व्यक्ति के बारे में जानकारी जुटाने व उससे पहचानने और उसका पता लगाने के लिए जारी किया जाता है।

दोनों के खिलाफ ब्यूरो ऑफ इमीग्रेशन ने यह नोटिस जारी किया है। यह नोटिस 22 फरवरी से एक साल तक आरोहण के सभी बंदरगाहों पर वैध रहेगा।

आयकर विभाग ने नीरव मोदी समूह की चार और संपत्तियां जब्त की है जिसमें 13 करोड़ रुपये के मूल्य का अलीबाग स्थित उनका फार्म हाउस और अहमदनगर में 70 करोड़ रुपये के मूल्य का 135 एकड़ जमीन पर बना 5.24 मेगावॉट का सौर ऊर्जा संयंत्र शामिल है। दोनों ही संपत्तियां महाराष्ट्र में है।

आयकर विभाग ने गीतांजलि समूह के 34 और बैंक खाते व फिक्सड डिपोसिट जब्त किए हैं जिसमें 1,45 करोड़ रुपये की शेष राशि जमा थी।

पीएनबी के साथ 12,600 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी मामले में मोदी के साथ चौकसी भी आरोपी है। इसके साथ ही सोमवार रात को 1,300 करोड़ रुपये भी इस राशि में शामिल हुए हैं।

इससे पहले मोदी और चौकसी की कंपनियों द्वारा धोखाधड़ी की राशि 11,300 करोड़ रुपये बताई जा रही थी।

–आईएएनएस

Tags
Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker