National

उप्र उपचुनाव : नूरपुर में सपा की जीत, कैराना में भी भाजपा संकट में

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में नूरपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उम्मीदवार अवनी सिंह को समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार नईमुल हसन से हार का सामना करना पड़ा। दूसरी ओर कैराना लोकसभा सीट पर मतगणना जारी है। यहां भी भाजपा के हाथ से जीत फिसलती दिखाई दे रही है।

समाजवादी पार्टी के नईमुल हसन ने 6,211 वोटों के अंतर से गुरुवार को नूरपुर विधानसभा सीट जीत ली। इस सीट से भाजपा के विधायक लोकेंद्र प्रताप सिंह के फरवरी में सड़क दुर्घटना में निधन के बाद से इस सीट पर उपचुनाव कराना जरूरी था। इस सीट पर सोमवार को चुनाव हुए थे।

कैराना में राष्ट्रीय लोकदल की उम्मीदवार तबस्सुम लगभग 50,000 से भी अधिक मतों से आगे चल रही हैं।

कैराना लोकसभा सीट और नूरपुर विधानसभा सीट के लिए मतगणना आज सुबह शुरू हुई थी। कैराना में सोमवार को हुए मतदान के दौरान ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें आयी थीं। कैराना सीट पर कल 73 मतदान केन्द्रों पर पुनर्मतदान कराया गया था।

भाजपा सांसद हुकुम सिंह के निधन के कारण कैराना सीट पर हुए उपचुनाव में उनकी बेटी मृगांका सिंह भाजपा प्रत्याशी हैं। इस सीट पर रालोद से तबस्सुम हसन मैदान में हैं जिन्हें सपा, बसपा और कांग्रेस का समर्थन भी प्राप्त है।

गौरतलब है कि 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में कैराना सीट पर भाजपा के हुकुम सिंह जीते थे। हुकुम सिंह को इस चुनाव में कुल 565,909 मत मिले थे जबकि सपा की नाहिद हसन दूसरे नंबर पर रही थीं और उन्हें 32,9081 वोट मिले थे। बसपा के कुंवर हसन तीसरे स्थान पर आए थे और उन्हें 16,0444 वोट मिले थे।

कैराना लोकसभा सीट के उपचुनाव पर देश के राजनीतिक दलों की निगाहें हैं क्योंकि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले हो रहे इस चुनाव की नतीजे देश की सियासत को नया संदेश देने वाले हैं। गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट के उपचुनाव से विपक्षी दलों का गठबंधन बना।

–आईएएनएस

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker