Khaas KhabarPolitics

उप्र की नदियों में विसर्जित होंगी अटल की अस्थियां

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की कर्मभूमि रहा है। उत्तर प्रदेश के हर क्षेत्र से वाजपेयी का गहरा लगाव था। इसलिए उनकी अस्थियां प्रदेश के समस्त जनपदों की मुख्य नदियों में प्रवाहित की जाएंगी।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश के जनपद आगरा में यमुना व चंबल, इलाहाबाद में गंगा, यमुना व तमसा, वाराणसी में गंगा, गोमती व वरुणा, लखनऊ में गोमती, गोरखपुर में घाघरा, राप्ती, रोहिन, कुआनो व आमी, बलरामपुर में राप्ती, कानपुर नगर में गंगा, कानपुर देहात में यमुना, अलीगढ़ में गंगा व करवन, कासगंज में गंगा, अंबेडकर नगर में घाघरा व टोन्स (तमसा), अमेठी में सई व गोमती, अमरोहा में गंगा व सोत, औरैया में यमुना व सिंधु, आजमगढ़ में घाघरा व टोन्स, बदायूं में गंगा, रामगंगा व सोत, बागपत में यमुना, हिंडन व काली नदी, बहराइच में सरयू, घाघरा, करनाली व सूहेली, बलिया में गंगा, घाघरा, गंडक व टोन्स, बांदा में केन व यमुना, बाराबंकी में घाघरा व गोमती, बरेली में रामगंगा व अरिल, बस्ती में घाघरा, कुआनो व मनोरमा, बिजनौर में गंगा व रामगंगा, बुलंदशहर व चंदौली में गंगा, चित्रकूट में यमुना, देवरिया में गंडक, घाघरा व राप्ती, एटा में इसान और इटावा में चंबल व यमुना नदी में अटल जी की अस्थियां विसर्जित की जाएंगी।

इसी प्रकार जनपद फैजाबाद में घाघरा व टोन्स (तमसा), फरुखाबाद में गंगा व रामगंगा, फतेहपुर में यमुना व गंगा, फिरोजाबाद में यमुना, गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद में यमुना व हिंडन, गाजीपुर में गंगा व गोमती, गोंडा में घाघरा व कुआनो, हमीरपुर में यमुना, धसान व केन, हापुड़ में गंगा, हरदोई में रामगंगा व सई, हाथरस में करबन व सेंगर, जालौन में यमुना, सिंधु व बेतवा, जौनपुर में सई व गोमती, झांसी में धसान व बेतवा, कन्नौज में गंगा, कौशाम्बी में गंगा व यमुना, कुशीनगर में गंडक व बूढ़ी गंडक, लखीमपुर खीरी में शारदा, गोमती व सूहेली और ललितपुर में बेतवा, धसान, जामनी व शहजाद नदी में अटल जी की अस्थियां प्रवाहित की जाएंगी।

इसी तरह महराजगंज में गंडक, छोटी गंडक, राप्ती व रोहिन, महोबा में धसान, मैनपुरी में इसान व अरिंद, मथुरा में यमुना व करवन, मऊ में घाघरा व टोन्स (तमसा), मेरठ में गंगा व हिंडन, मीरजापुर में गंगा, मुरादाबाद में रामगंगा, मुजफ्फरनगर में गंगा, हिंडन व काली नदी, पीलीभीत में शारदा, गोमती, व देवहा (गर्रा), प्रतापगढ़ में सई व गंगा, रायबेरली में सई, गंगा व बकूलाही, रामपुर में रामगंगा, सहारनपुर में यमुना, हिंडन व काली नदी, संभल में गंगा व अरिल, संतकबीर नगर में घाघरा, राप्ती व कुआनो, संतरविदास नगर में गंगा व वरुणा, शाहजहांपुर में रामगंगा, गोमती व गर्रा, शामली में यमुना, श्रावस्ती में राप्ती, सिद्धार्थनगर में राप्ती, कुन्हरा, घोघी व वान गंगा, सीतापुर में गोमती, घाघरा व शारदा, सोनभद्र में सोन, रेहन्द व कान्हा, सुल्तानपुर में गोमती एवं उन्नाव में गंगा व सई नदी में पूर्व प्रधानमंत्री की अस्थियां विसर्जित की जाएंगी।

–आईएएनएस

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker