Special

कड़ी मेहनत से बना हीरो नंबर वन : गोविंदा

 

बॉलीवुड के ‘हीरो नंबर वन’ गोविंदा को फिल्म उद्योग में तीन दशक हो चुके हैं और वह अपनी नई फिल्म ‘आ गया हीरो’ के साथ बतौर मुख्य अभिनेता अगले महीने दर्शकों के सामने होंगे। लंबे समय तक काम करने का तजुर्बा और कामयाबी हासिल करने के बावजूद गोविंदा कहते हैं कि उन्हें लग रहा है कि जैसे वह यहां से अपनी शुरुआत कर रहे हैं। बॉलीवुड के कॉमेडी किंग और हीरो नंबर वन कहलाने वाले गोविंदा की नई फिल्म ‘आ गया हीरो’ 3 मार्च को रिलीज होगी। इस फिल्म में वह फिर से अपने प्रसिद्ध कॉमिक और एक्शन अवतार में नजर आएंगे। अपनी इस फिल्म के प्रचार के सिलसिले में यहां पहुंचे गोविंदा ने आईएएनएस के साथ खास बातचीत में अपने दिल की खिड़की खोली।

 

गोविंदा आज भी ‘हीरो नंबर वन’ कहलाते हैं, क्या यही वजह है कि आपने अपनी नई फिल्म को इसी से मिलता-जुलता नाम दिया? इस पर उन्होंने कहा, “मुझे फिल्म ‘हीरो नंबर वन’ से यह उपाधि मिली थी और इस साल 21 फरवरी को इस इस उपाधि को 20 साल पूरे हो रहे हैं और 21वां साल शुरू हो रहा है, इसलिए मैंने सोचा कि ‘आ गया हीरो’ ही मेरी नई फिल्म के लिए एक दम सही नाम रहेगा।”

 

उन्होंने आगे कहा, “यह ऐसा शीर्षक है, जिसे सुनकर मुझे अच्छा भी लगता है और थोड़ा डर भी लगता है। यह मुझे कड़ी मेहनत करने के लिए भी प्रोत्साहित करता है। यह शीर्षक मजबूर करता है कि मैं लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए कड़ी मेहनत करूं और जो काम मैं कर रहा हूं, उसे करने से पहले दोबारा सोचूं कि क्या यह वाकई हीरो वाला काम है, क्या यह वाकई सही है?”

 

आपको फिल्म उद्योग में तीन दशक हो चुके हैं और आपका जलवा आज भी बरकरार है, इस पर गोविंदा ने कहा, “मैं इसके लिए भगवान को धन्यवाद देना चाहूंगा। मैं जब इस क्षेत्र में आया तो मैं ज्यादा पढ़ा-लिखा नहीं था, मेरी पृष्ठभूमि गांव की थी लेकिन मुझे लोगों का साथ मिलता गया, बल्कि मैं मानता हूं कि मेरे ऊपर भगवान की विशेष कृपा रही। मैं जहां भी गया, मेरी कड़ी मेहनत देखकर लोगों ने मुझे काम दिया।”

 

इतने लंबे करियर में क्या कभी ऐसा महसूस हुआ कि आप बहुत काम कर चुके हैं और सब कुछ हासिल कर चुके हैं, इस पर गोविंदा ने कहा, “यह मेरी होम प्रोडक्शन की पहली फिल्म है और मुझे ऐसा लग रहा है कि यहां से मेरी शुरुआत हुई है। मुझे ऐसा लगता है कि जब मैंने अपना फिल्मी करियर शुरू किया, तब मैं बच्चा था और अब जाकर जवान हुआ हूं।”

 

आपने बॉलीवुड में इतना लंबा वक्त गुजारा है, इस दौरान आपकी कई फिल्में असफल रहीं और लोगों ने आलोचनाएं भी कीं, लेकिन आप रुके नहीं, इस पर उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि हमें जिंदगी में कभी रुकना नहीं चाहिए। लोग आपकी आलोचनाएं भी करेंगे और आपकी तुलना भी, लेकिन अगर आप उन पर ध्यान देंगे तो अपने काम पर कैसे ध्यान देंगे। आपको केवल अपने काम पर ध्यान देना चाहिए।”

 

अस्सी के दशक से शुरू हुए गोविंदा के फिल्मी सफर में ब्रेक जरूर लगा, फिर भी प्रशंसकों के बीच उनका जलवा कम नहीं हुआ।

 

प्रशंसकों के इस प्यार को गोविंदा अपनी मां का आशीर्वाद मानते हैं। उन्होंने कहा, “यह सही बात है कि मेरी फिल्में सफल भी रहीं और असफल भी, लेकिन प्रशंसकों का प्यार कम नहीं हुआ और मुझे लगता है कि इसके पीछे मेरी मां, ईश्वर और आप सब लोगों का आशीर्वाद है।”

 

90 के दशक में अपने गजब डांस स्टाइल और कॉमेडी के जरिए लोगों के दिलों में जगह बनाने वाले गोविंदा पिछले 15 साल के बाद बतौर हीरो किसी फिल्म में नजर आएंगे, इस पर उन्होंने कहा, “मुझे बतौर मुख्य अभिनेता के तौर पर वापसी करने में 15 साल लग गए और मैंने खुद भी नहीं सोचा था कि मुझे इतना वक्त लगेगा। मैंने इस दौरान कई फिल्में की, लेकिन उनमें मैंने चरित्र निभाया था हालांकि मैं चाहता था कि मैं फिर से एक हीरो के तौर पर नजर आऊं।

 

उन्होंने कहा, “2014 में हैपी एंडिंग और किलदिल दो फिल्में आईं और वह औसत रहीं, लेकिन मुझे लगा कि दर्शकों का प्यार और तालियां अभी भी पहले जैसी हैं, उसमें बदलाव नहीं हुआ है और इसीलिए मैं दोबारा बतौर हीरो आपके सामने प्रस्तुत हूं।”

–आईएएनएस

Tags
Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker