Khaas KhabarTechnology

कश्मीर को भारत से अलग बताने पर फेसबुक ने माफी मांगी

नई दिल्ली :  फेसबुक ने अपने ब्लॉग पोस्ट में कश्मीर को भारत से अलग बताने की भूल को लेकर बुधवार को माफी मांगी। सोशल मीडिया मंच ने अपने ब्लॉग पोस्ट में भारत और कुछ अन्य देशों के साथ-साथ कश्मीर का जिक्र अलग से किया था।

फेसबुक की यह प्रतिक्रिया आईएएनएस की खबर के बाद आई है। खबर में बताया गया था कि फेसबुक ने कश्मीर को भारत से अलग बताकर देश की अखंडता का उल्लंघन किया है। इसके बाद अब फेसबुक ने ब्लॉग पोस्ट से कश्मीर का संदर्भ हटा दिया है।

फेसबुक ने एक बयान में आईएएनएस को बताया, “हमने ईरानी नेटवर्क से प्रभावित देशों व क्षेत्रों की सूची में गलती से अपने ब्लॉग पोस्ट में कश्मीर को शामिल कर दिया। इस नेटवर्क के द्वारा साझा किए गए कुछ कंटेंट में कश्मीर भी था, लेकिन इसे लिस्ट में शामिल नहीं किया जाना चाहिए था। हमने ब्लॉग पोस्ट में इसे ठीक कर लिया है और इसे लेकर पैदा हुए किसी गलतफहमी के लिए हम माफी मांगते हैं।”

ब्लॉग पोस्ट लिखने वाले फेसबुक की साइबर सिक्योरिटी पॉलिसी के प्रमुख नैथेनियल ग्लेशर ने ट्वीट भी किया।

उन्होंने कहा, “यह भूल थी। कश्मीर कुछ पोस्ट का विषय था, लेकिन यह प्रभावित देशों व क्षेत्रों की सूची में नहीं होना चाहिए था। हमने सुधार कर लिए है। गलतफहमी के लिए माफी।”

ग्लेशर ने मंगलवार को अपने ब्लॉग पोस्ट में कश्मीर को भारत से अलग बताया था। फेसबुक ने घोषणा की थी कि उसने हजारों फर्जी पेज और खातों को हटा लिया है।

ग्लेशर ने कहा, “हमने ईरान से जुड़े अनेक नेटवर्क के अप्रमाणिक व्यवहार के लिए 513 पेज, ग्रुप और खातों को हटाया है।”

उन्होंने कहा, “उनका संचालन मिस्र, भारत, इंडोनेशिया, इजरायल, इटली, कश्मीर, कजाकिस्तान और पूरे मध्य पूर्व व उत्तरी अफ्रीका में होता था।”

फेसबुक ने भारतीय राजनीति और भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव पर पोस्ट की गई खबरों के पेज व खातों को भी हटाया।

ब्लॉग पोस्ट में कहा गया, उन्होंने (ईरान से संबद्ध नेटवर्क ने) ईरान के खिलाफ प्रतिबंध, भारत व पाकिस्तान के बीच तनाव, सीरिया व यमन में संघर्ष, आतंकवाद, इजरायल व फिलिस्तीन के बीच तनाव, इस्लामी धार्मिक मुद्दे, भारतीय राजनीति और वेनेजुएला में हालिया संकट सहित वर्तमान घटनाओं पर पोस्ट की थीं।

फेसबुक ने कहा कि उसने 2,632 पेज, समूह और खातों को हटाया है, जो उसके मंच के साथ-साथ इंस्टाग्राम पर भी ईरान, रूस, मकदूनिया और कोसोवो से समन्वित अप्रमाणिक व्यवहार में लगे हुए थे।

–आईएएनएस

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker