कांग्रेस एक लॉफिंग क्लब, भ्रष्टाचार के मामले में जमानत पर : मोदी

कांग्रेस एक लॉफिंग क्लब, भ्रष्टाचार के मामले में जमानत पर : मोदी

Rehan: Prime Minister Narendra Modi addresses during a BJP rally ahead of November 8 Assembly polls, in Rehan of Himachal Pradesh's Kangra district on Nov 2, 2017. (Photo: IANS)

 

कांगड़ा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की एक चुनावी सभा में कांग्रेस पर निशाना साधते कहा कि कांग्रेस नेतृत्व ने खुद को ‘लॉफिंग क्लब’ बना दिया है जोकि भ्रष्टाचार के आरोपों पर जमानत पर है। मोदी ने चीनी राजदूत से मुलाकात को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना भी साधा।

मोदी ने कांगड़ा में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, “हम सभी को कांग्रेस पर नजर डालने की जरूरत है। हमें उनके साहस की सराहना करनी चाहिए। उन्होंने अपने घोषणापत्र में कहा कि अगर कांग्रेस दोबारा सत्ता में आती है तो भ्रष्टाचार के खिलाफ वह शून्य सहनशीलता की नीति अपनाएगी। उनके पास अभी भी भ्रष्टाचार के खिलाफ शून्य सहनशीलता की नीति अपनाने का दावा करने का साहस है।”

कांग्रेस शासित हिमाचल में विधानसभा चुनाव नौ नवंबर को होंगे।

अज्ञात स्रोतों से आय से अधिक संपत्ति मामले में सीबीआई जांच में घिरे हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि ‘सिंह साहब’ भ्रष्टाचार के खिलाफ शून्य सहनशीलता की बात कर रहे हैं। क्या कोई उन पर भरोसा करेगा?

मोदी ने भीड़ से एक से अधिक बार इस सवाल को पूछा।

मोदी ने कहा, “कांग्रेस एक लॉफिंग क्लब बनकर रह गई है। उनके मुख्यमंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला है। वह जमानत पर हैं। उनके पास खोने के लिए कुछ भी नहीं है और वे देश के हर हिस्से में अपनी पकड़ खोते जा रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि यह महात्मा गांधी या स्वतंत्रता सेनानियों की कांग्रेस नहीं बल्कि भ्रष्टाचार, वंशवाद की राजनीति और जातिवाद की पार्टी है।

मोदी ने कांग्रेस पर तीखे वार करते हुए कहा, “कांग्रेस सड़े हुए विचार का एक प्रतीक है। जब हम यह कहते हैं कि हम देश का कांग्रेस से छुटकारा चाहते हैं, तो हमारी इस बात का अर्थ इस सड़ी हुई सोच से देश को छुटकारा दिलाना है।”

मोदी ने कहा कि कांग्रेस को खुद समझना चाहिए कि ‘क्यों भारत जैसा क्षमाशील देश’ उसके नेताओं को दंडित करने के लिए एक के बाद एक उनसे दूर हो रहा है।

हिमाचल को शहीदों और सैनिकों की भूमि बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने देवभूमि में माफियाओं को संरक्षित कर रखा है।

उन्होंने कहा, “हिमाचल प्रदेश में पांच राक्षस हैं। यह पांच खनन माफिया, वन माफिया, ड्रग माफिया, निविदा माफिया और स्थानांतरण माफिया हैं। ये पांच राक्षस आपके संसाधनों को लूट रहे हैं। भ्रष्टाचार और परिवारवाद फैला रहे हैं और युवाओं के भविष्य को खराब कर रहे हैं।”

भारतीय जनता पार्टी से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल और पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार भी इस रैली में मौजूद थे।

मतदाताओं को खुद से जोड़ने की कोशिश करते हुए मोदी ने कहा, “मैंने हिमाचल प्रदेश में बड़े पैमाने पर काम किया है। मैं यहां के शहरों से परिचित हूं और मुझे यहां हर सड़क की जानकारी है। नौ नवंबर को आपके पास उन लोगों को विदाई देने का अवसर होगा जिन्होंने इस राज्य को लूटा है।”

उन्होंने कहा, “हिमाचल में कमल खिलेगा और भ्रष्टाचार का खात्मा होगा।”

उन्होंने भारतीय व चीनी सेना के बीच चल रहे डोकलाम विवाद के दौरान चीन के राजदूत से मुलाकात पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की खिंचाई भी की।

उन्होंने आरोप लगाया कि राहुल गांधी ने चीन के राजदूत से डोकलाम के मुद्दे पर जानकारी मांगी थी लेकिन इन्हें डोकलाम मुद्दे पर देश की चुनी हुई सरकार की बात पर विश्वास नहीं था।

मोदी ने कहा, “भारतीय राजनयिकों और विदेश मंत्रालय की जगह आप चीनी राजदूत से पूछने चले गए। क्या ये अपमान की बात नहीं है कि ये लोग डोकलाम मुद्दे पर निर्वाचित सरकार से पूछने के बजाए चीनियों से बात करते हैं?”

उन्होंने कहा, “क्षमा करें, लेकिन यह बुनियादी समझ की कमी को प्रदर्शित करती है। देश को पता है कि डोकलाम मुद्दे को किस तरह से निपटाया गया, लेकिन कांग्रेस ने इस पर भी सवाल उठाया।

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *