National

चर्चित बंगाली गायिका बनश्री सेनगुप्ता नहीं रहीं

 

कोलकाता| चर्चित बंगाली गायिका बनश्री सेनगुप्ता का यहां रविवार को एक सरकारी अस्पताल में निधन हो गया। वह लंबे समय से बीमार थीं। उन्होंने अपनी मधुर आवाज से दशकों तक संगीत प्रेमियों के दिलों पर राज किया था। सेनगुप्ता (71) विधवा थीं और उन्होंने एसएसकेएम अस्पताल में सुबह 11.30 बजे अंतिम सांस ली। यहां कोई 10 दिन पहले उन्हें भर्ती कराया गया था।

 

सेनगुप्ता ने 1966 से लेकर दशकों तक ढेर सारे रोमांटिंग गीतों को अपनी आवाज दी।

 

उनके हिट गीतों में ‘आज बिकेलेर डाके तोमर छिथी पेलम’, ‘अमर अनगे जलेय रंगमोशल’, ‘छी छी एकी कनदो कोरेछी’, ‘दूर अकाशे तोमार सुर’, और ‘सुंदर बोनय सुंदरी गाछ’ शामिल हैं।

 

उन्होंने बंगाली, हिंदी, असमी और उड़िया फिल्मों के लिए भी अपनी आवाज दी।

 

संगीत को दिए उनके योगदान के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने उन्हें 2012 और 2013 में क्रमश: संगीत सम्मान और महासंगीत सम्मान से सम्मानित किया था।

 

सेनगुप्ता के प्रशंकों ने बड़ी संख्या में उनके शव पर पुष्पचक्र चढ़ाए। उनका शव रबिंद्र सदन में आम लोगों के दर्शन के लिए रखा गया था, और बाद में केओराटोला घाट पर उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया।

 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सेनगुप्ता के निधन पर गहरा दुख प्रकट किया है।

 

उन्होंने ट्वीट किया, “दिग्गज गायिका बनश्री सेनगुप्ता के निधन की खबर सुनकर गहरा दुख पहुंचा है। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएं।”

–आईएएनएस

Tags
Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker