National

जब अर्थिक रूप से कमजोर बच्चों के बीच मनाया गया क्रिसमस

 

प्रेमबाबू शर्मा,
महागुरू नाम से लोकप्रिय गौरव मित्तल द्वारा आयोजित फंडरेज़र कार्यक्रम में आर्थिक रूप से कमजोर 200 बच्चों के बीच मनाया क्रिसमस। इस मौके पर बच्चों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम और चित्रकला एवं नृत्य प्रतियोगिता भी आयोजित हुई । कार्यक्रम अंत में उन्हें कंबल व जरूरत से जुडी चीजों का भी वितरण किया गया।

 
समारोह में ‘कर्मवीर चक्र’ पुरस्कार से भी सम्मानित अदित मित्तल को सीएसआर आॅफिसर के रूप में नामित किया गया है। वे कोरपोरेट जगत के सबसे कम उम्र के सीएसआर अधिकारी हैं।

 
इंदिरापुरम के इण्डिया हैबिटेट सेंटर आयोजित इस कार्यक्रम में आदित्य मित्तल ने गिटार पर परफोर्मेन्स दिया, इसके अलावा अन्य पेशेवरों ने भी लाईव सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए।

 

सामाजिक संस्था सोल्यूशन्स प्रा लिमिटेड -संचय, लैट्स नरचर ड्रीम्व में पढ़ने वाले बच्चों को भी सहयोग प्रदान करता है और क्रिसमस एवं अन्य त्योहारेां पर तरह तरह के कार्यक्रमों का आयोजन करता है, उनके लिए महागुरू-गौरव मित्तल ने कहा, ‘‘मैं पहली पीढ़ी का उद्यमी हूं, भगवान हमेशा मेरे साथ रहा है; मुझे जीवन में ज़्यादा संघर्ष का सामना नहीं करना पड़ा। हर किसी को किस्मत से इतना कुछ नहीं मिलता। हालांकि बहुत से ऐसे बच्चे हैं जो कम उम्र में ही अपने माता पिता को खो देते हैं; या कुछ अभिभावकों को वृद्धावस्था में अलग-थलग रहने क लिए छोड़ दिया जाता है, जब उन्हें सबसे ज़्यादा प्यार और सहयोग की ज़रूरत होती है। बचपन से इन नेक कार्यों की तरह अदित का झुकाव देखकर बहुत अच्छा लगता है। ‘मैं और पुत्र अदित और पत्नी स्वाति के सहयोग से देश के लगभग हर सम्भव शहर में एक ओल्ड ऐज होम और एक अनाथालय खोलना चाहते हैं, ताकि इन ज़रूरतमंद बच्चों/ बुजुर्गों की मदद कर सके।। जल्द ही हम एक एनजीओ ‘स्पार्कल’ पेश करने जा रहे हैं जो विभिन्न संगठनों से वित्तपोषण जुटाएगा; अनाथालयों/ वृद्धाश्रमों को आत्मनिर्भर बनने के लिए सहयोग प्रदान करेगा।’’

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker