जानें कैसे एक साल में ‘मिस कैंपस’ से ‘मिस वर्ल्ड’ बन गईं मानुषी छिल्लर

जानें कैसे एक साल में 'मिस कैंपस' से 'मिस वर्ल्ड' बन गईं मानुषी छिल्लर

Sanya: India's Manushi Chillar receives the crown after winning the Miss World 2017 pageant in Sanya, China on Nov 18, 2017. (Photo: Xinhua/IANS)

 

चंडीगढ़: हरियाणा के सोनीपत जिले में स्थित लड़कियों के मेडिकल कॉलेज में मेडिसिन की पढ़ाई कर रही मिस वर्ल्ड 2017 का खिताब जीतने वाली मानुषी छिल्लर के लिए बीता एक वर्ष पुरस्कारों से भरा रहा है।

चीन के समुद्र तट पर स्थित सान्या शहर में शनिवार की शाम को 21 वर्षीय मानुषी छिल्लर को मिस वर्ल्ड 2017 के खिताब से नवाजा गया।

मानुषी का परिवार हरियाणा से ताल्लुक रखता है और फिलहाल दिल्ली में रहता है। वह सोनीपत के खानपुर कलान गांव में स्थित भगत फूल सिंह गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज फॉर वुमन से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहीं हैं।

एक प्रतिभाशाली कवि, चित्रकार और कुचीपुड़ी नर्तकी मानुषी एक कार्डीएक सर्जन बनना चाहती हैं और महिलाओं के बीच मासिक धर्म की स्वच्छता की एक परियोजना से जुड़ी हुईं हैं।

पिछले एक वर्ष के अंदर मानुषी ने कई पुरस्कार जीते हैं। पिछले वर्ष दिसंबर में उन्होंने मेडिकल कॉलेज में ‘मिस कैंपस प्रिंसेज’ का खिताब अपने नाम किया। उन्होंने इस वर्ष अप्रैल में ‘मिस हरियाणा’ और जून में फेमिना मिस इंडिया का खिताब अपने नाम किया।

मेडिकल कॉलेज के छात्रावास में उनके साथ रहने वाली अंजलि और मुस्कान ने कहा, “मानुषी ने हमसे वादा किया था कि वह मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने का प्रयास करेगी। उसने यह खिताब हासिल कर दिखाया, हमें उस पर बहुत गर्व है।”

मानुषी के मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने की खबर सुनने के बाद शनिवार को उनके मित्र और परिवार के सदस्य खुशी से नाच उठे और उन्होंने मिठाइयां बांटी।

मिस इंडिया का खिताब जीतने के बाद मानुषी ने सौन्दर्य स्पर्धाओं के लिए मेडिकल कॉलेज से एक वर्ष का ब्रेक लिया। खिताब जीतने के अपने सपने को पूरा करने के बाद मानुषी अपनी एमबीबीएस की डिग्री को पूरा करने के लिए वापस पढ़ाई की ओर लौटने का मन बना रहीं हैं।

मानुषी का जन्म नई दिल्ली से करीब 70 किलोमीटर दूर रोहतक शहर में 14 मई, 1997 को हुआ। उन्होंने अपनी पढ़ाई नई दिल्ली के सेंट थॉमस स्कूल से की। वह पढ़ाई में हमशा से अच्छी रही हैं। उन्होंने 12वीं की परीक्षा में 96 प्रतिशत अंक अर्जित किए थे।

मानुषी के पिता मित्राबसु छिल्लर और माता नीलम छिल्लर, दोनों चिकित्सक हैं और नई दिल्ली में स्वास्थ्य संस्थानों में काम कर रहे हैं। माता-पिता बेटी की जीत के समय उसके साथ सान्या में थे।

मिस इंडिया का खिताब जीतने के बाद जुलाई में मानुषी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मुलाकात के बाद मीडिया से कहा था, “मैं अपने देश और राज्य के लिए मिस वर्ल्ड 2017 का खिताब जीतने की कोशिश करूंगी।”

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *