Politics

तेजस्वी ने बिना अनुमति शुरू करवाया था मॉल का निर्माण : सुशील मोदी

 

पटना| बिहार के उपमुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने मंगलवार को एक बार फिर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद और उनके पुत्र पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव पर निशाना साधा है। मोदी ने आरोप लगाया कि तेजस्वी ने पटना में बन रहे बिहार के सबसे बड़े मॉल का निर्माण बिना अनुमति के शुरू करवाया था।

मोदी ने मंगलवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “लालू प्रसाद के रेलमंत्री रहते रेलवे के दो होटल को देने के एवज में तेजस्वी के तीन एकड़ जमीन पर बन रहे 750 करोड़ रुपये की लागत से 15 मंजिले बिहार के सबसे बड़े मॉल का निर्माण बिना अनुमाति और बिना नक्शा पास कराए शुरू करवाया गया था।”

मोदी ने कहा कि बिहार नगरपालिका अधिनियम, 2007 के नियम 313 में स्पष्ट प्रावधान है कि भवन की योजना स्वीकृत होने पर ही कोई व्यक्ति निर्माण करेगा।

उन्होंने कहा कि उपमुख्यमंत्री बनने के छह महीने के अंदर तीन एकड़ भूखंड पर 7 लाख 66 हजार वर्ग फुट का एक हजार ऑफिस स्पेस के साथ फाइव स्टार होटल कम शपिंग मल का एग्रीमेंट सुरसंड के विधायक अबुल दोजाना की कंपनी के साथ किया गया।

उन्होंने कहा कि बन रहे मॉल की मिट्टी संजय गांधी जैविक उद्यान में देने के खुलासे के बाद आनन-फानन में आधे-अधूरे कागजात के साथ 15 अप्रैल को दानापुर नगर परिषद में नक्शा की स्वीकृति के लिए आवेदन दिया गया।

उन्होंने बताया कि एक महीने से ज्यादा समय के बाद 24 मई, 2017 को दानापुर नगर परिषद ने नक्शे के त्रुटि निराकरण के लिए तेजस्वी के वास्तुविद को नोटिस किया था। चार महीने गुजर जाने के बाद अब तक त्रुटि का निराकरण नहीं किया गया और न ही नोटिस का जवाब दिया गया है।

मोदी ने दावा करते हुए कहा कि मॉल में बेसमेट नहीं हैं, जबकि जमीन के मालगुजारी की रसीद अद्यतन नहीं है और ना ही अग्निशमन विभाग का अनापत्ति प्रमाणपत्र है।

उल्लेखनीय है कि मोदी पिछले तीन महीने से लालू प्रसाद के परिवार पर भ्रष्टाचार और बेनामी संपत्ति को लेकर निशाना साध रहे हैं।

–आईएएनएस

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker