Politics

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव : माकपा, भाजपा के बीच कांटे की टक्कर

अगरतला: त्रिपुरा की 60 सदस्यीय विधानसभा सीटों में से 59 पर शनिवार को हो रही मतगणना में सत्तारूढ़ मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है। राज्य में 18 फरवरी को चुनाव से एक सप्ताह पहले चारीलाम सीट से माकपा के उम्मीदवार के निधन के बाद इस सीट को छोड़कर बाकी 59 सीटों पर मतदान हुए थे।

निर्वाचन अधिकारी ने बताया, “पोस्टल बैलट की गणना पूरी होने के आधे घंटे बाद ईवीएम से हुए मतदान की गणना की जाएगी।”

निर्वाचन आयोग के अधिकारी ने बताया कि मतदान के समय ड्यूटी पर तैनात 50,700 से अधिक सुरक्षाकर्मियों और मतदान कर्मियों ने पोस्टल बैलट के जरिए अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।

राज्य के 20 स्थानों में बनाए गए 59 मतगणना केंद्रों पर तीन स्तरीय सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। सभी 59 सीटों पर मतगणना जारी है।

मतदान केंद्रों के आसपास एहतियात के तौर पर सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गई है।

अतिरिक्त निर्वाचन अधिकारी तपस रॉय ने आईएएनएस को बताया, “किसी भी तरह की अप्रिय घटना से निपटने के लिए भारी संख्या में अर्धसैनिक बलों की टुकड़ियां और सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है।”

उन्होंने बताया कि प्रत्येक मतगणना स्थल पर मेटल डिटेक्टर और छह सीसीटीवी लगाए गए हैं। साथ ही पूरी मतगणना प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिग भी की जा रही है।

निर्वाचन आयोग ने मतगणना प्रक्रिया पर नजर रखने के लिए 47 सामान्य पर्यवेक्षक और आठ पुलिस पर्यवेक्षकों को नियुक्त किया है।

राज्य में सत्तारूढ़ मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा), भाकपा, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस और निर्दलीयों सहित कुल 290 उम्मीदवार चुनावी मैदान में आमने-सामने हैं। इनमें कुल 23 महिलाएं भी हैं।

राज्य में मतदान से एक सप्ताह पहले माकपा के उम्मीदवार रामेंद्र नारायण देबरमा के निधन के कारण चारीलाम सीट (जनजातियों के लिए आरक्षित) पर मतदान स्थगित कर दिया गया था, जहां 12 मार्च को मतदान होगा।

–आईएएनएस

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker