नागालैंड के पूर्व मुख्यमंत्री को आतंक वित्तपोषण मामले में समन

नागालैंड के पूर्व मुख्यमंत्री को आतंक वित्तपोषण मामले में समन

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने नागालैंड के पूर्व मुख्यमंत्री टी. आर. जेलियांग को कथित ‘टैक्स संग्रहण और आतंक वित्त पोषण’ मामले में पूछताछ के लिए समन भेजा है। एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। यह मामला 14 सरकारी विभागों से एनएससीएन (के), एनएससीएन (आईएम) और नागा नेशनल कौंसिल द्वारा कथित अवैध धन उगाही से जुड़ा हुआ है।

जेलियांग को संबंधित दस्तावेजों के साथ यहां एजेंसी के मुख्यालय में मंगलवार को पेश होने के लिए कहा गया है।

राज्य में हाल में हुए विधानसभा चुनाव से पहले एनआईए ने कथित आतंक वित्तपोषण मामले में जेलियांग के ऑफिसर ऑन स्पेशल ड्यूटी (ओएसडी) और दो अन्य कार्यालय कर्मचारी को समन भेजा था।

एनआईए ने 18 जनवरी को 2017 को नागालैंड के कई सरकारी विभागों में छापे मारे थे और 2 करोड़ के भुगतान से संबंधित रसीद जब्त की थी।

सूत्रों के अनुसार, इन विभागों में सूचना प्रौद्योगिकी निदेशालय, भूमि और जल संरक्षण निदेशालय, सिंचाई निदेशालय, ग्रामीण विकास निदेशालय, शहरी विकास, सड़क एवं इमारत निदेशालय, लोक निर्माण विभाग, सूचना एवं जनसंपर्क निदेशालय शामिल हैं।

एनआईए के अनुसार, “31 जुलाई 2016 को एनएससीएन (के) के वरिष्ठ नेता एस. खेतोशे सुमी को गिरफ्तार किया गया था।”

सुमी ने कथित रूप से यह खुलासा किया था कि वह संगठन में ‘वित्त विभाग का प्रमुख’ था और उसकी मुख्य जिम्मेदारी कई सरकारी विभागों से अवैध कराधान के माध्यम से धन एकत्रित करना था।

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *