Lifestyle

नोर्थ ईस्ट इंडिया भारत का वो हिस्सा है जहाँ लोगों में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है!

 

एस.पी. चोपड़ा, नई दिल्ली। नार्थ ईस्ट इंडिया भारत का वो हिस्सा है जंहा लोगो में प्रतिभाओ की कोई कमी नहीं है.यंहा के लोग माहिर है खूबसूरत कपडे और पोशाक बनाने में इसी टेलेंट को आगे लाने के लिए पिछले 3 सालो की तरह अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर में नार्थ ईस्ट इंडिया फैशन वीक का आयोजन किया गया. जिसकी थीम थी “दा खादी मूवमेंट’.

इस फेस्टिवल में सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, आसाम, नागालैंड के फैशन डिजायनर्स और हथकरघा उद्योग से जुड़े लोगो ने न सिर्फ भाग लिया बल्कि दुनिया के सामने अपने नायब कलेक्शन पेश कर लोगो को दिखा दिया की नार्थ ईस्ट इंडिया भी किसी से कम नहीं है.

इस फेस्टिवल की आयोजक याना खुद एक ड्रेस डिजायनर है और इन प्रदेशो में उन्होंने फैशन इंडस्ट्री में बेहतरीन काम किया है अब याना का मकसद है इन प्रदेशो में खादी और हथकरघा उद्योगों से जुड़े कारीगरों को एक अच्छा प्लेटफार्म दिलाना.

याना बताती है जब दो साल उन्होंने इस फेस्टिवल की शुरुआत की थी तब लोगो ने उनके काम को सराहा था वो मेहनत करती गयी और आज ये फेस्ट यंहा की पहचान बन चुका है.

3 दिन चलने वाले इस फेस्ट में न सिर्फ ड्रेसेज का प्रदर्शन किया गया बल्कि उन लोगो को जोड़ने का काम भी किया गया जो इस फिल्ड में बिलकुल नए है. इस काम को सहयोग मिला अरुणाचल पदेश के टूरिज्म डिपार्टमेंट और हथकरघा एवं खादी मंत्रालय का. डिजायनर्स ने इस फेस्ट की काफी सराहना की और कहा की उन्हें इसके जरिये अब पहचान मिलेगी.

फैशन इंडस्ट्री में इनका भी नाम गूजेंगा. नार्थ ईस्ट इंडिया की बात हो और बैंड परफॉर्मेंस का नाम हो भला ऐसा कैसे हो सकता है इस फेस्ट में कई अलग अलग बैंड्स ने इन डिजायनर्स का उत्साह बढ़ाया.

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker