पेटीएम (Paytm) ने शुरू की ‘इंस्टैंट बैंक सेटलमेंट’ सेवा

पेटीएम (Paytm) ने शुरू की 'इंस्टैंट बैंक सेटलमेंट' सेवा

नई दिल्ली : डिजिटल पेमेंट्स प्लेटफार्म पेटीएम (Paytm) की पैरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस लि. ने व्यापारियों के लिए ‘इंस्टैंट बैंक सेटलमेंट‘ यानी तत्काल बैंक सेटलमेंट सेवा शुरू करने की घोषणा की है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि इस नई शुरुआत से कंपनी ने नगदी जैसा शक्तिशाली भुगतान समाधान मुहैया कराने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को दोहराया है। इससे व्यापारियों को अपने रोजमर्रा के नगद प्रवाह में सुधार लाकर अपना व्यापार तेजी से बढ़ाने में मदद मिलेगी।

बयान में कहा गया कि कंपनी का लक्ष्य अपने ऑफलाइन स्टोर पर पेटीएम (Paytm) क्यूआर के जरिये भुगतान स्वीकार करने वाले 95 लाख व्यापारियों को लाभ पहुंचाने का है। पेटीएम (Paytm) पहला ऐसा डिजिटल पेमेंट्स प्लेटफार्म था जिसने ‘नेक्स्ट डे सेटलमेंट’ यानी अगले दिन सेटलमेंट की सुविधा व्यापारियों को दी थी। और अब ‘इंस्टैंट बैंक सेटलमेंट’ के जरिये उसने डिजिटल भुगतान उद्योग में एक और नई पहल की है। पेटीएम एप पर ही व्यापारी अब यह चुन सकेंगे कि वे अपने कारोबारी लेन-देन कब सेटल करना चाहते हैं या वे जब चाहें तब इंस्टैंट सेटलमेंट भी कर सकते हैं।

बयान में कहा गया कि कंपनी ने देशभर में दस लाख से ज्यादा व्यापारियों के लिए पायलट प्रोग्राम संचालित किया था। इसका उसे बहुत अच्छा प्रतिसाद मिला है। इसका लाभ यह हुआ कि ज्यादा से ज्यादा व्यापारी अब अपने ग्राहकों को पेटीएम (Paytm) के जरिये भुगतान करने के लिए जागरुक कर रहे हैं।

पेटीएम (Paytm) के मुख्य परिचालन अधिकारी किरण वासीरेड्डी ने कहा, “हमने यह पाया कि हमारे पार्टनर व्यापारियों के लिए रोजमर्रा के नगद-प्रवाह को बेहतर बनाने के लिए इंस्टैंट सेटलमेंट यानी तत्काल सेटलमेंट की आवश्यकता थी। इसी वजह से हमने इंस्टैंट सेटलमेंट का विकल्प विकसित किया और दस लाख से ज्यादा व्यापारियों के बीच एक पायलट परियोजना के तौर पर संचालित किया। इसके नतीजे बेहद उत्साहवर्धक रहे।”

उन्होंने कहा, “पेटीएम (Paytm) क्यूआर से अलग-अलग तरह के भुगतान स्वीकार करने में 100 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई। अब व्यापारी भी अपने ग्राहकों को पेटीएम क्यूआर से भुगतान करने की सलाह दे रहे हैं। इसी को आधार बनाकर हम अब अपने 95 लाख पार्टनर व्यापारियों के लिए यह सेवा उपलब्ध करा रहे हैं। इस नई शुरुआत से हम व्यापारियों को इंस्टैंट लिक्विडिटी दे रहे हैं। इसी वजह से व्यापारी कह रहे हैं कि अब ‘पेटीएम भी कैश जितना ही शक्तिशाली पेमेंट माध्यम बन गया है।”‘

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *