रक्षाबंधन का उपहार है महिलाओं को घर : प्रधानमंत्री मोदी

रक्षाबंधन का उपहार है महिलाओं को घर : प्रधानमंत्री मोदी

वलसाड: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को अपनी सरकार के बारे में ‘साफ नीयत, सही विकास’ का नया नारा दिया। प्रधानमंत्री ने गुजरात के वलसाड जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत महिलाओं को एक लाख घर दिए और इसे रक्षाबंधन का उपहार बताया।

2014 के लोकसभा चुनावों के पहले भाजपा का और चुनाव के बाद मोदी सरकार का नारा सबका साथ, सबका विकास रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी महिलाओं के घरों से संबंधित ‘ई-गृह प्रवेश’ के अवसर पर दक्षिण गुजरात के वलसाड जिले के जनजाति बाहुल्य क्षेत्र के जजुआ गांव में एक सामारोह में बोल रहे थे। इस योजना के तहत 1.15 लाख से ज्यादा आवासीय इकाइयां 1,727 करोड़ रुपये की लागत से बनाई गईं हैं।

मोदी ने 26 जिलों की महिला लाभार्थियों से वीडियो के जरिए बातचीत की।

प्रधानमंत्री ने कहा, “हमारी सरकार साफ नीयत, सही विकास की प्रतिबद्धता के साथ आगे बढ़ रही है और इसी वजह से मैं आप सभी से यहां हर किसी की मौजूदगी में पूछ सकता हूं कि क्या आपको किसी ने धोखा दिया है।”

मोदी ने सार्वजनिक सभा में कहा,”मुझे आज राज्य भर की महिलाओं से बात करने का मौका मिला, जिन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर मिले हैं। यह गुजरात की बहनों को मेरा रक्षाबंधन उपहार है।”

उन्होंने कहा, “रक्षाबंधन के पर्व के पहले एक लाख घर देना वास्तव में मेरे लिए संतुष्टि का क्षण है।”

उन्होंने कहा कि यह घर ‘शानदार’ हैं क्योंकि इनमें कोई मध्यस्थ शामिल नहीं है।

मोदी ने कहा, “यह मेरा सपना है, यह सुनिश्चित करने का हमारा प्रयास है कि 2022 तक हर भारतीय का अपना घर हो।”

मोदी ने कहा, “अब तक हमने सिर्फ राजनेताओं को अपना घर मिलते सुना है। अब हम गरीबों को अपना घर पाते सुन रहे हैं।”

मोदी ने वलसाड जिले में धरमपुर व कपराड़ा तालुका के वन क्षेत्र के जनजातीय गांवों के लिए 586 करोड़ रुपये की अस्टोल ग्रुप जल आपूर्ति योजना का भी शिलान्यास किया।

उन्होंने कहा, “देश में अतीत में कई आदिवासी मुख्यमंत्री हुए होंगे, लेकिन यह हमारी सरकार है जो आदिवासी इलाके में हर कोने पर जल आपूर्ति पहुंचाने के लिए काम कर रही है।”

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *