दिल्लीबिज़नेस

राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी ने ट्रेड फेयर के 36वें संस्‍करण का उद्घाटन किया

 

नई दिल्‍ली । राष्‍ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी ने आज (14 नवंबर, 2016) नई दिल्‍ली में भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय व्‍यापार मेले के 36वें संस्‍करण का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर राष्‍ट्रपति महोदय ने कहा कि भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय व्‍यापार मेला नए भारत का एक विशाल आयोजन है, जो बहुत तेजी से आकार ले रहा है। यह एक गौरवशाली भविष्‍य, उत्‍कृष्‍टता की भावना और प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी द्वारा की गई पहलों ‘मेक इन इंडिया’ एवं ‘डिजिटल इंडिया’ के जरिए उपलब्‍धि एवं अभूतपूर्व निवेश अवसर के विजन को प्रदर्शित करता है। यह मेला आर्थिक सुधार के लाभों को समाज के सभी वर्गो, विशेष रूप से, वंचित वर्गों के लोगों तक पहुंचाने की भारत की प्रतिबद्धता का प्रतीक है।

राष्‍ट्रपति महोदय ने आईटीपीओ को इस वर्ष की थीम ‘डिजिटल इंडिया’ के लिए बधाई दी। उन्‍होंने कहा कि डिजिटल प्रौद्योगिकियां ई-कॉमर्स, ई-इनेबल्‍ड एवं मोबाइल सेवाएं ई-शासन के बड़े घटक हैं और समय गुजरने के साथ जीडीपी विकास में उल्‍लेखनीय रूप से योगदान देंगे। राष्‍ट्रपति महोदय ने कहा कि इसके साथ-साथ हमें एक ऐसे समाज की स्‍थापना के लिए, जो आत्‍मनिर्भर है और वर्तमान तथा भविष्‍य की पीढ़ियों की दिशा में अपनी जिम्‍मेदारियों के प्रति सजग है, अपने प्रचुर नवीकरणीय स्रोतों का उपयोग करने की भी आवश्‍यकता है।

राष्‍ट्रपति महोदय ने भारत और विदेशों के, विशेष रूप से ‘साझीदार देश’ दक्षिण कोरिया तथा ‘फोकस देश’ ‘बेलारूस’ के सभी सहभागियों को शुभकामनाएं दीं। उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि इस वर्ष आईआईटीएफ के लिए ‘साझीदार राज्‍य’ मध्‍य प्रदेश एवं झारखंड तथा ‘फोकस राज्‍य’ हरियाणा इस वर्ष मेले द्वारा प्रस्‍तुत किए जाने वाले अवसरों का पूरा लाभ उठाएंगे।

राष्‍ट्रपति महोदय ने कहा कि उन्‍हें भरोसा है कि इस मेले के 36वें संस्‍करण के दौरान निवेशकों, विनिर्माताओं एवं रिटेलरों के बीच व्‍यवसाय एवं अभिसरण और सामंजस्य को बढ़ावा मिलेगा। उम्‍मीद है कि यह मेला ‘डिजिटल इंडिया’, ‘मेक इन इंडिया’ एवं स्‍वच्‍छ भारत अभियानों के प्रति एक बेहतर समझ और जागरूकता का भी सृजन करेगा।

Tags
Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker