World

श्रीलंका हिंसा पर गुटेरेस चिंतित, शीर्ष अधिकारी करेंगे हिंसाग्रस्त कैंडी का दौरा

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र के अंडर सेक्रेटरी जनरल जेफरी फेल्टमैन श्रीलंका के सांप्रदायिक हिंसा से ग्रस्त कैंडी शहर का दौरा करेंगे। वहो वह इस सप्ताह श्रीलंका के धार्मिक नेताओं से मुलाकात करेंगे।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन डुजारिक ने मंगलवार को कहा कि गुटेरेस श्रीलंका में सांप्रदायिक हिंसा की खबरों को लेकर चिंतित हैं और मतभेदों को दूर करने के लिए वार्ता का आग्रह कर रहे हैं।

डुजारिक ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र में राजनीतिक मामलों के प्रभारी फेल्टमैन का यह दौरा शुक्रवार से शुरू होगा और यह श्रीलंका के साथ संयुक्त राष्ट्र की मौजूदा प्रतिबद्धता का हिस्सा है।

उन्होंने बताया कि फेल्टमैन अपनी तीन दिवसीय यात्रा के दौरान श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना, प्रधानमंत्री रनिल विक्रमासिंघे और राजनीतिक दलों और नागरिक समाज समूहों के प्रतिनिधियों से मुलाकात कर सकते हैं।

डुजारिक ने कहा, “हम यकीनन श्रीलंका में हो रही सांप्रदायिक हिंसा की खबरों से चिंतित हैं और हम इन तनावों को दूर करने और सुलह के लिए सरकार की प्रतिबद्धताओं का स्वागत करते हैं। हम श्रीलंका के नागरिकों से वार्ता के जरिए मतभेदों को सुलझाने का आग्रह करते हैं।”

मैत्रीपाला सिरिसेना ने कैंडी शहर में बौद्धों और मुस्लिमों के बीच भड़की हिंसा के बाद देश में 10 दिनों के आपातकाल का ऐलान कर दिया था।

अधिकारियों के मुताबिक, एक सिहली बौद्ध ट्रक चालक के दाह संस्कार के बाद रविवार को हिंसा भड़क उठी। कुछ मुस्लिमों ने इस बौद्ध ट्रक चालक की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी।

इस घटना के बाद सिंहली बौद्धों की गुस्साई भीड़ ने मुसलमानों के घरों और दुकानों पर हमला कर उनमें आग लगा दी थी, जिमें एक मुसलमान की मौत हो गई थी।

सरकार ने किसी भी तरह से अप्रिय घटना से बचाव के लिए भारी संख्या में पुलिस और सेना की तैनाती की है।

गौरतलब है कि फरवरी में देश के अमपारा में इन्हीं समुदायों के बीच इसी तरह की एक और घटना में पांच लोग घायल हो गए थे और कई दुकानें और एक मस्जिद क्षतिग्रस्त हो गई थी।

–आईएएनएस

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker