‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान से 7 दिनों में 1 करोड़ लोग जुड़े

'स्वच्छता ही सेवा' अभियान से 7 दिनों में 1 करोड़ लोग जुड़े

 

नई दिल्ली| देशभर में शुरू स्वच्छता ही सेवा अभियान आज दूसरे सप्ताह में पहुंच गया है। पहले सप्ताह में ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान से सात दिनों में एक करोड़ लोग जुड़े हैं।

चेन्नई में मद्रास उच्च न्यायालय की मदुरै पीठ के न्यायाधीशों ने शहर को स्वच्छ और हरित बनाने के लिए जनसमुदाय, विद्यार्थियों, जिला प्रशासन के अधिकारियों, शहरी निगमों, पुलिस, सार्वजनिक कार्य एवं आयकर विभाग के साथ मिलकर स्वच्छता अभियान चलाया है। इस दौरान वैगई नदी को भी साफ किया गया है।

पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि महाराष्ट्र में 430 ग्राम पंचायतों को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया गया है। 15 सितम्बर से अब तक 58 हजार से अधिक शौचालय बनाए गए हैं।

बयान के अनुसार, विश्व प्रसिद्ध रेत शिल्पकार सुदर्शन पटनायक ने प्रधानमंत्री के आह्वान पर स्वच्छता सेवा कार्य में शामिल होने के निजी पत्र को प्राप्त करने के बाद अपनी पुरस्कार राशि पुरी में मछुआरों के लिए दो शौचालय बनाने के लिए दी है।

बयान में कहा गया है कि बिहार की एक युवती ने स्वच्छता पर एक गीत लिखा है। झारखंड में विश्वविद्यालय स्वच्छता की अपील कर रहे हैं और परिसरों को स्वच्छ रखने का संदेश दे रहे हैं।

बयान के अनुसार, मीडिया ने भी इस क्षेत्र में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। डीडी सहयात्री ने स्वच्छता ही सेवा विशेष श्रृंखला आरंभ की है। इस श्रृंखला के तहत दो अक्टूबर तक प्रतिदिन संदेशपरक स्वच्छता कार्यक्रमों का प्रसारण किया जाएगा।

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *