हमेशा से कठिन किरदारों में रही है रुचि : जिमी शेरगिल

हमेशा से कठिन किरदारों में रही है रुचि : जिमी शेरगिल

मुंबई: अभिनेता जिमी शेरगिल का कहना है कि वह पर्दे पर चुनौतीपूर्ण तथा मुश्किल किरदार निभाने के लिए उत्सुक रहते हैं। उनकी फिल्म ‘साहेब बीबी और गैंगस्टर 3’ जल्द रिलीज होने वाली है।

जिमी ने आईएएनएस को बताया, “मैं हमेशा ही ऐसे किरदार निभाना चाहता हूं जिनके कई पहलू हों और उन्हें निभाना कठिन हो। इसलिए जब मेरे पास कोई मुख्य भूमिका लेकर भी आता है तो मैं उस फिल्म में अपेक्षाकृत छोटा किरदार लेता हूं और यह पहले हो चुका है। मैं उस किरदार को और रोचक बनाने के लिए योगदान कर सकता हूं।”

जिमी को ‘मोहब्बतें’, ‘मुन्ना भाई एमबीबीएस’, ‘बस एक पल’, ‘मुक्काबाज’, ‘तनु वेड्स मनु’ और ‘स्पेशल 26’ में अभिनय के लिए जाना जाता है।

जिमी ने वर्ष 1996 में ‘माचिस’ से बॉलीवुड में पदार्पण करने के बाद गुलजार, तिग्मांशु धूलिया, आदित्य चोपड़ा और राजकुमार हिरानी जैसे कई फिल्म निर्माताओं के साथ काम कर चुके हैं।

उनसे सीखने के सवाल पर उन्होंने कहा, “मैंने आनंद एल. राय से सीखा कि अपने ‘कम्फर्ट जोन’ से बाहर कैसे निकलें। आम तौर पर मैं बहुत सामान्य से अभिनय करता हूं लेकिन ‘तनु वेड्स मनु’ में उन्होंने कुछ दृश्यों में मुझे उग्र होने के लिए कहा। मुझे लगता है कि इससे मुझमें चीजों को अलग तरीकों से करने का विश्वास आया।”

उन्होंने बताया कि गुलजार ने उन्हें काम जारी रखना सिखाया।

जिमी ने कहा, “कभी किसी फिल्म की सफलता या असफलता को अपनी किस्मत मत बनाओ। हर फिल्म की अपनी किस्मत होती है और बतौर कलाकार मेरा काम है फिल्म के परिणाम के बारे में सोचे बिना अपना सर्वश्रेष्ठ देना.. क्योंकि अगर फिल्म चलती है, मैं जश्न मनाऊंगा और अगले दिन काम पर जाऊंगा।”

उन्होंने आगे कहा, “और अगर फिल्म असफल होती है तो भी मुझे अपना सफर जारी रखने के लिए काम करना होगा। इसलिए किसी और काम की अपेक्षा काम करते रहना ज्यादा महत्वपूर्ण है।”

27 जुलाई को रिलीज हो रही ‘साहेब बीवी और गैंगस्टर 3’ के निर्देशक तिग्मांशु के साथ काम करने पर उन्होंने कहा, “तिग्मांशु ने एक दिन युवा कलाकार से कहा, ‘इन पंक्तियों, संवाद को लिखने में हमने कठिन मेहनत की है.. इन्हें सिर्फ बोलो मत, इन्हें बोलने से पहले उन्हें समझो, अपनाओ।’ यह मेरे दिमाग में बस गया और इसके बाद जब भी मैं अपने संवाद पढ़ता था, तो मैं कोशिश करता था कि वे मेरे शब्द हैं और यह ना लगे कि यह संवाद किसी और ने लिखे हैं।”

जिमी का वास्तविक नाम जसजीत सिंह गिल है। उन्होंने इसकी कहानी बताते हुए कहा, “वास्तव में जिमी मेरा उपनाम है। मेरी पहली फिल्म की शूटिंग के समय, लोग मुझे जिमी कहकर बुलाते थे तो पत्रकारों ने भी मेरा नाम जिमी लिखना शुरू कर दिया।”

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *