2000 रुपये का नोट बंद करने का प्रस्ताव नहीं : जेटली

2000 रुपये का नोट बंद करने का प्रस्ताव नहीं : जेटली

New Delhi: Union Minister for Finance, Corporate Affairs, and Information and Broadcasting Arun Jaitley addresses during the 109th FoundationDay celebrations of Indian Bank in New Delhi, on Aug 21, 2015. (Photo: IANS)

 

नई दिल्ली| वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुक्रवार को कहा कि सरकार के सामने 2,000 रुपये के नोट को बंद करने का कोई प्रस्ताव नहीं है। जेटली ने लोकसभा में एक लिखित उत्तर में कहा, “2,000 रुपये के नोट को बंद करने का कोई प्रस्ताव नहीं है।”

 

उन्होंने यह भी कहा भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की तिजोरी में 10 दिसम्बर तक पुराने 500 और 1000 रुपये के बंद किए गए 12.44 लाख करोड़ नोट वापस लौटे।

 

उन्होंने कहा, “इस संबंध में प्राप्त आंकड़ों में लेखा की गलतियों और दोबारा गिनने जैसी त्रुटियां संभव हैं। इसलिए अंतिम आंकड़े जमा हुए एक-एक नोट को गिनने के बाद ही जारी किए जाएंगे।”

 

देश में 3 मार्च तक 12 लाख करोड़ रुपये की मुद्रा प्रचलन में थी।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते वर्ष 8 नवंबर को 500 रुपये और 1000 रुपये के नोट अवैध घोषित किए थे।

 

जेटली ने कहा, “नोटबंदी से अर्थव्यवस्था स्वच्छ हुई है। बैंकों में जमा में बढ़ोतरी हुई है। इससे ब्याज दरों को घटाने तथा और अधिक कर्ज मुहैया कराने में बैंकों को मदद मिलेगी।”

–आईएएनएस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat