Specialदिल्ली

3 नवंबर से शुरू होगा दिल्ली का सबसे लोकप्रिय, रंगारंग और मनोरंजक पूर्वोत्तर महोत्सव!

 

एस.पी. चोपड़ा, नई दिल्ली: पूर्वोत्तर की संस्कृतियों और प्रतिभाआं को राश्ट्रीय मंच पर लाने वाला पूर्वोत्तर महोत्सव का एक बार फिर से अगाज होने जा रहा है। यह महोत्सव अगले महीने देष की राजधानी नई दिल्ली में आयोजित होगा। पिछले चार सालों से, यह महोत्सव शहर में होने वाले सबसे लोकप्रिय आयोजनों में से एक हो गया है।

इस फेस्टिवल मं लाखों लोग षामिल होते हैं जो पूर्वोत्तर के आनंद और उत्साह में खुद को सराबोर करने यहां आते हैं। पूर्वोत्तर महोत्सव का 5 वां संस्करण 3 से 5 नवंबर, 2017 को राजधानी के जनपथ स्थित आईजीएनसीए में आयोजित किया जाएगा और पहले के संस्करणों की तुलना में इसमें कई अन्य आकर्शणों को भी षामिल किया गया है जिसके कारण इसके पहले से कहीं ज्यादा बड़ा और बेहतर होने की उम्मीद है।

इस फेस्टिवल में पूर्वोत्तर के रंगबिरंगे मांटेज को प्रस्तुत किया जाएगा जिसमें नागा वारियर डांस, मणिपुर के थंग टा, त्रिपुरा के होजगिरी, मिजोरम के बैम्बू डांस, मेघालय के वांगला डांस, अरुणाचल प्रदेश के लायन डांस सहित 30 नृत्य रूपों को प्रदर्षित किया जाएगा।

असम के मजुली के नतुम कमलाबाड़ी सतरा की मास्क प्रस्तुति के साथ प्रसिद्ध राम विजय भाओना और मणिपुर की लय के साथ, नाॅर्थ ईस्ट फेस्टिवल का कार्निवल दिल्ली के सांस्कृतिक माहौल को और भी रंगारंग बनायेगा। इनके अलावा, पूर्वोत्तर की सुंदर माॅडलों और सेलिब्रिटी शोस्टॉपर्स के द्वारा पूर्वोत्तर के शीर्ष डिजाइनों का प्रदर्शन किया जाएगा।

महोत्सव के मुख्य आयोजक श्यामकानु महंत ने बताया कि महोत्सव में विभिन्न पूर्वोत्तर राज्य, विकास परिषद इस क्षेत्र के निवेश और पर्यटन क्षमता को पेश करेंगे। उन्होंने कहा कि इस महोत्सव में काफी संख्या में ऑपरेटरों और विदेशी पर्यटकों के भाग लेने की संभावना है।

दिल्ली पुलिस क्षेत्र के बारे में जागरुकता पैदा करने के प्रयास के तहत दिल्ली स्थित आरडब्ल्यूए को आमंत्रित करने में मदद कर रही है। महोत्सव का एक और आकर्षण दिल्ली पुलिस और गैर पूर्वी लोगों के बीच प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता होगी। महोत्सव में प्रवेष निःषुल्क है और इसका समय सुबह 11 बजे से रात 10 बजे तक होगा।

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker