दिल्ली

युवा लड़कियों के लिए शिक्षा सशक्तिकरण की कुंजी है: जया प्रदा

महिलाओं को उत्कृष्ट कार्यों के लिए शौर्य अचीवर्स सोसायटी ने किया सम्मानित!

नई दिल्ली: पुराने ज़माने की फिल्म अभिनेत्री और राजनेता जया प्रदा ने शौर्य अचीवर्स सोसाइटी द्वारा एक कार्यक्रम में कहा कि युवा लड़कियों के लिए शिक्षा ही सशक्तिकरण की कुंजी है.

उन्होंने कहा कि, “महिलाओं को उनके सामाजिक परिवेश में पुरषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर साथ चलना चाहिए.” श्रीमती जाया प्रदा शौर्य अचीवर्स सोसाइटी द्वारा आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुईं. इस मौके पर उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में लेखनीय कार्य करने वालीं महिलाओं को सम्मानित किया.”

कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता अरुण सहनी ने महिला सशक्तिकरण पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि आज भी महिलाओं को अपने अधिकारों के लिए लड़ना पड़ता है.

इस अवसर पर जानी-मानी पत्रकार राखी बक्शी ने कहा कि यह सही समय है कि हम महिलाओं को सशक्त बनाने पर काम कर रहें हैं और हमें लिंग के मुद्दों को अलगाव में नहीं देखना चाहिए.

इस मौके पर विजेता महिलाओं में ऋतू सिंह, पायल कपूर, निधि मेहरा, पूनम, ईशा गोयल, प्रिया मेहता, रिया राठौर, आरती सिंह, कामना शेखावत, दीप्ति सिंह, गीतांजलि सूद, संगीता जैन, काजल सहनी, हिमानी, कशी जैन, अंजू सक्सेना और एसिड विक्टिम सोनिया चौधरी को सम्मानित किया गया. इस कार्यक्रम में एनसीआर जनमत समाचार मीडिया पार्टनर था.

शौर्य अचीवर्स सोसाइटी के बी.के. शर्मा व गुंजन शर्मा ने बताया कि, “शौर्य अचीवर्स पुरस्कार सालाना नई दिल्ली में आयोजित किए जाते हैं, लेकिन यह देश भर में अन्य शहरों में अपनी घटनाओं को पकड़कर जागरूकता फैलाने की योजना बना रहा है.”

Show More
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker